Hindi Language(हिंदी भाषा)

Quiz-3

(Class - 1-5)

Quiz $\newcommand{\ones}{\mathbf 1}$

Hindi Language (Language - 1)

निर्देश-नीचे दिए गए गद्यांश को पढ़कर पूछे गए प्रश्न (प्रश्न सं. 1 से 8) से सही/सबसे उपयुक्त उत्तर वाले विकल्प को चुनिए।

हमें स्वतंत्र हुए 15 वर्ष ही हुए थे कि पड़ोसी चीन ने हमारी पीठ में छुरा भोंक दिया। उत्तर सीमा की सफेद बर्फीली चोटिया शहीदों के खून से शंकर लाल हो गई। हजारों माओं की गांदे सूनी हुई, हजारों की माँग का सिंदूर पूछ गया और लाखों अभागे बच्चे पिता के प्यार से वंचित हो गए। गणतंत्र दिवस निकट आ रहा था। देश का हौसला पस्त था। कोई उमंग नहीं रह गई थी पर्व मनाने की। तब यह सोचा गया कि जानी-मानी फिल्मी हस्तियाँ आयोजन में शामिल हों तो भीड़ उमड़ेगी। वहाँ कोई ऐसा गीत प्रस्तुत हो जो लोगों के दिलों को छूकर उन्हें झकझोर सके। चुनौती फिल्म जगत तक पहुंची। एक नौजवान गीतकार प्रदीप ने चुनौती स्वीकारने का मन बनाया और गीत लिखना शुरू किया। लेकिन सुर और स्वर के बिना गीत का क्या! प्रदीप संगीत निर्देशक सी. रामचंद्र के पास पहुंचे। उनके गीत पंसद आया और रक्षा मंत्रालय को सूचना दे दी गई। 26 जनवरी का शुभ दिन आया। लाखों की भीड़ बड़ी उत्सुकता से प्रतीक्षा कर रही थी। तब तक जो धुन बज रही थी वह हटी और थोड़ी देर शांति रही। तभी उस शांति को चीरता हुआ लता मंगेशकर का वेदना और चुनौती भरा स्वर सुनाई पड़ा- "ऐ मेरे वतन के लोगों, जरा आँख में भर लो पानी। समय जैसे थम गया। सभी के मन एक ही भाव, एक ही रस में डूब गए। गीत समाप्त हुआ तो लगभग दो लाख लोग सिसक रहे थे। आँस थे कि थमते ही न थे।

(1.) "ऐ मेरे वतन के लोगो...." गीत के बारे में क्या सच नहीं है?
  1. मन्ना डे ने सुर दिया
    Correct! गद्यांश के आधार कहा जा सकता है कि "ऐ मेरे वतन के लोगों.. गीत प्रदीप ने लिखा, सी. रामचन्द्र ने संगीत दिया था लता मंगेशकर ने स्वर दिया (गया)। 'मन्ना डे ने सर दिया' यह सच नहीं है।
  2. सी. रामचन्द्र ने संगीत दिया
    Incorrect.
  3. लता मंगेशकर ने स्वर दिया
    Incorrect.
  4. प्रदीप ने लिखा
    Incorrect.

(2.) भारत में 26 जनवरी का पर्व मनाने की उमंग न रहने का कारण था
  1. सैनिकों के द्वारा मार्च-पास्ट से इनकार
    Incorrect.
  2. रक्षा मंत्रालय की अनिच्छा
    Incorrect.
  3. चीन का दबाव
    Incorrect.
  4. हजारों युवकों का शहीद होना
    Correct! भारत में 26 जनवरी का पर्व मनाने की उमगन रहने कारण भारत चीन युद्ध में हजारों युवक का शहीद होना था।

(3.) रक्षा मंत्रालय को क्या सूचना दी गई होगी?
  1. फिल्मी हस्तियाँ भाग लेंगी
    Correct! रक्षा मंत्रालय को सूचना दी गई होगी कि गणतन्त्र दिवस के आयोजन में जानी-मानी फिल्मी हस्तियाँ शामिल होगी।
  2. गीत प्रस्तुत करने की चुनौती स्वीकार है
    Incorrect.
  3. प्रदीप और सी. रामचंद्र भी दिल्ली आएँगे
    Incorrect.
  4. 26 जनवरी का पर्व मनाया जाए
    Incorrect.

(4.) पीठ में छुरा भोंकना' का अर्थ है
  1. आक्रमण करना
    Incorrect.
  2. विश्वासघात करना
    Correct! पीठ में छुरा भोकना' मुहावरे का अर्थ है - विश्वासघात करना।
  3. पराजित करना
    Incorrect.
  4. युद्ध में घायल करना
    Incorrect.

(5.) जानी-मानी फिल्मी हस्तियों को बुलाने का निर्णय क्यों लिया गया?
  1. यभीड़ जुटाने के लिए
    Correct! गणतंत्र दिवस के आयोजन में भीड़ जुटाने के लिए जानी-मानी फिल्मी हस्तियों को बुलाने का निर्णय लिया गया। क्योंकि भारत-चीन युद्ध में हजारों सैनिकों के शहीद होने से लोग दुःखी थे और इस तरह के आयोजन में भाग नहीं लेना चाहते थे। ऐसे में फिल्मी हस्तियों की उपस्थिति माहौल को हल्का कर देती।
  2. यलता मंगेशकर का गीत सुनने के लिए
    Incorrect.
  3. शहीदों को श्रद्धांजलि देने के लिए
    Incorrect.
  4. गणतंत्र दिवस मनाने के लिए
    Incorrect.

(6.) 'माँग का सिंदूर पुँछ जाना' मुहावरे का अर्थ है
  1. विधवा हो जाना
    Correct! 'माँग का सिंदूर पुँछ जाना' मुहावरे का अर्थ है- विधवा हो जाना।
  2. वियोगिनी होना
    Incorrect.
  3. अभागिन होना
    Incorrect.
  4. अनाथ हो जाना
    Incorrect.

(7.) देश का हौसला पस्त था, क्योंकि
  1. तैयारियाँ नहीं की गई थी
    Incorrect.
  2. कोई उमंग शेष नहीं थी
    Incorrect.
  3. फिल्मी हस्तियों साथ नहीं दे रही थी
    Incorrect.
  4. चीन से मात खाई थी
    Correct! देश का हौसला पस्त था क्योंकि चीन से मात खाई थी। गद्यांश के प्रथम अनुच्छेद में निहित तथ्यों से स्पष्ट है कि भारत के साथ चीन का युद्ध हुआ था। जिसमें भारत के बहुत सैनिक शहीद हुए थे, जिससे लोग दुःखी थे और गणतंत्र दिवस का उत्सव नहीं मनाना चाहते थे। अतः देश का हौसला पस्त था।

(8.)उमड़ना' क्रिया का कौन-सा प्रयोग ठीक नहीं है?
  1. नदी उमड़ आई
    Incorrect.
  2. दृध उमड़ने लगा
    Correct! दूध उमड़ना लगा' में 'उमड़ना' क्रिया का प्रयोग ठीक नहीं है, इसके स्थान पर 'उबलना' क्रिया का प्रयोग होगा। शेष 'नदी उमड़ आई 'आसू उमड़ चले' तथा 'भीड़ उमड़ पड़ी' में 'उमड़ना' क्रिया का प्रयोग उचित है।
  3. ऑसू उमड़ चले
    Incorrect.
  4. भीड़ उमड़ पड़ी
    Incorrect.

(9.) भाषा-शिक्षण के संदर्भ में बाल-साहित्य का उद्देश्य है
  1. बच्चों को जीवन-कौशल सिखाना
    Incorrect.
  2. बच्चों को भाषा के नियमों की जानकारी देना
    Incorrect.
  3. बच्चों को उत्साही पाठक बनने के लिए प्रोत्साहित करना
    Correct! भाषा-शिक्षण के संदर्भ में बाल-साहित्य का उद्देश्य है बच्चों को उत्साही पाठक बनने के लिए प्रोत्साहित करना। शेष बाल-साहित्य के उद्देश्य के संदर्भ में कम महत्व के तर्क हैं।
  4. बच्चों को साहित्यिक विधाओं से परिचित करवाना
    Incorrect.

(10.) 'संदर्भ में व्याकरण' का शैक्षिक निहितार्थ है
  1. व्याकरण का संदर्भ पाठ्य-पुस्तक में ही होता है।
    Incorrect.
  2. व्याकरण पाठ के संदर्भ में सिखाया जाता है
    Correct! 'संदर्भ में व्याकरण' का शैक्षिक निहितार्थ है- व्याकरण पाठ के संदर्भ में सिखाया जाता है। पाठ विशेष में निहित व्याकरणिक तथ्यों का उल्लेख संदर्भ में व्याकरण कहलाता है जैसे पाठ के दौरान शब्दों का अर्थ स्पष्ट करने के लिए उनका संधि विच्छेद करना, समास विग्रह करना, उपसर्ग- प्रत्यय बताइए आदि।
  3. पाठ के संदर्भ में व्याकरण जानना जरूरी नहीं है
    Incorrect.
  4. व्याकरण और संदर्भ दोनों अलग है।
    Incorrect.

(11.) बच्चों को कहानी सुनाने की उपयोगिता सिद्ध होती है-
  1. कहानी कहने के तरीके द्वारा
    Incorrect.
  2. कहानी में गुंथे हुए नैतिक मूल्यों के आधार पर
    Incorrect.
  3. कहानी से मिलने वाली ज्ञान-विज्ञान की जानकारी द्वारा
    Incorrect.
  4. कहानी से मिलने वाली सीख द्वारा
    Correct! कहानी से मिलने वाली सीख द्वारा बच्चों को कहानी सुनाने की उपययोगिता सिद्ध होती है-

निर्देश (प्र. सं. 12-17) : निम्नलिखित काव्यांश को पढ़कर दिए गए प्रश्नों के सही/सबसे उपयुक्त उत्तर वाले विकल्प का चुनकर लिखिए।

जीवन के इस मोड़ पर, कुछ भी कहा जाता नहीं।
अधरों को डयोढ़ी पर, शब्दों के पहरे हैं।
हँसने को हँसते हैं, जीने को जीते हैं
साधन-सुभीतों में, ज्यादा ही रीते है।
बाहर से हरे-भरे, भीतर घाव मगर गहरे
सबसे के लिए गुंडे हैं, अपने लिए बहरे हैं।

(12.) 'कुछ भी कहा जाता नहीं' - ऐसा क्यों?
  1. साधन सुविधाओं के अभाव के कारण
    Incorrect.
  2. बन्धन और बेबसी के कारण
    Correct! काव्यांश में कवि कहता है कि बंधन और बेबसी के कारण कुछ भी नहीं कहा जाता है।
  3. गूंगा होने के कारण
    Incorrect.
  4. भीतर के घावों के कारण
    Incorrect.

(13.) कविता की पंक्तियों में मुख्यतः बात की गई है
  1. कुछ भी न कह पाने की विवशता की
    Correct! कविता की पंक्तियों में मुख्यतः कुछ भी न कह पाने की विवशता की बात की गई।
  2. घावों के हरे-भरे होने की
    Incorrect.
  3. गूंगा-बहरा होने की
    Incorrect.
  4. साधन-सुभीतों की
    Incorrect.

(14.) 'रीते' शब्द से भाव है
  1. अपनेपन का
    Incorrect.
  2. परायेपन का
    Incorrect.
  3. खालीपन का
    Correct! रीते शब्द से भाव खालीपन से होता है। काव्यांश में वाक्य 'साधन-सुभीतों में ज्यादा ही रीते हैं।' से स्पष्ट है कि रीते शब्द का आशय 'खालीपन' है।
  4. खोलखलेपन का
    Incorrect.

(15.) कविता की पंक्तियों के आधार पर कहा जा सकता है कि
  1. कवि कुछ भी कहने या सुन पाने की स्थिति में नहीं है
    Incorrect.
  2. कवि घावों के गहरे होने से दुखी है
    Correct! कविता की पंक्तियों के आधार पर कहा जा सकता है कि कवि घावों के गहरे होने से दुखी है। कवि शरीर के आन्तरिक घावों की बात करता है जो बाहर से दिखाई नही पड़ते हैं, परन्त अन्दर बहुत बड़े घाव होते हैं।
  3. कवि के जीवन में बहुत अभाव है।
    Incorrect.
  4. कवि कुछ भी करने की स्थिति में नहीं है।
    Incorrect.

(16.) 'ड्योढ़ी" का अर्थ है
  1. घर
    Incorrect.
  2. देहरी
    Incorrect.
  3. दरवाजा
    Correct! काव्यांश के अनुसार ड्योढ़ी का अर्थ दरवाजा से है।
  4. चौखट
    Incorrect.

(17.) 'भीतर के घाव' से तात्पर्य है
  1. शारीरिक क्षति
    Incorrect.
  2. घर के भीतर की अशान्ति
    Incorrect.
  3. हृदय की पीड़ा
    Correct! काव्यांश में भीतर के घाव से तात्पर्य है हृदय की पीडा कवि बाहर से हँसता रहता तथा प्रसन्न रहता है, लेकिन अन्तःमन सदैव भयानक पीड़ा से ग्रसित है।
  4. अंदरूनी चोट
    Incorrect.

(18.) भाषा सीखने का उद्देश्य है
  1. प्रत्येक स्थिति में भाषा का प्रयोग कर पाना
    Correct! भाषा सीखने का उद्देश्य प्रत्येक स्थिति में भाषा का प्रयोग कर पाना होता है। किसी विद्यार्थी को भाषा का ज्ञान इसलिए दिया जाता है कि वह भाषा सीख कर उस भाषा का शिक्षण गतिविधियों में तथा अपने जीवन में प्रयोग कर सके।
  2. आदेश-निर्देश दे पाना और सुन पाना
    Incorrect.
  3. दूसरों की बातों को समझ पाना
    Incorrect.
  4. अपने मन की बात कह पाना
    Incorrect.

(19.) "बच्चों के भाषायी विकास में समाज की महत्वपूर्ण भूमिका होती है।" यह विचार किसका है?
  1. पियाजे
    Incorrect.
  2. स्किनर
    Incorrect.
  3. चॉम्स्की
    Incorrect.
  4. वाइगोत्सकी
    Correct! वाइगोत्स्की का विचार है कि "बच्चों के भाषायी विकास में समाज की महत्वपूर्ण भूमिका होती है।

(20.) विद्यार्थियों का भाषायी विकास समग्रता से हो सके. इसके लिए सबसे उपयुक्त अनुशंसा होगी
  1. शब्दकोश एवं विश्वकोष के प्रयोग की
    Incorrect.
  2. भाषा प्रयोग के विविध अवसरों की
    Incorrect.
  3. सतत एवं व्यापक आकलन की
    Correct! विद्यार्थियों का भाषायी विकास समग्रता से ही सके, इसके लिए सबसे उपयुक्त अनुशंसा सतत एवं व्यापक आकलन की है।
  4. सर्वोत्कृष्ट पाठ्य-पुस्तकों की
    Incorrect.

(21.) लिखित भाषा का प्रयोग
  1. केवल प्रतिवेदन-लेखन के लिए किया जाता है।
    Incorrect.
  2. कार्यालयी कार्यों के लिए ही किया जाता है
    Incorrect.
  3. अपनी अभिव्यक्ति के लिए किया जाता है।
    Correct! लिखित भाषा का प्रयोग व्यक्ति द्वारा अपनी अभिव्यक्ति के लिए किया जाता है। लिखित भाषा प्रयोग द्वारा व्यक्ति अपने विचारों, भावों तथा अन्य समस्त प्रकार क्रिया-कलाप को लिखित रूप में अभिव्यक्त कर सकता है।
  4. केवल साहित्य सृजन के लिए किया जाता है।
    Incorrect.

(22.) प्राथमिक स्तर की कक्षा में भिन्न-भिन्न प्रान्तों के अलग अलग भाषा बोलने वाले बच्चों का नामांकन हुआ है। ऐसी स्थिति में भाषा की कक्षा बच्चों के भाषायी विकास के सन्दर्भ में
  1. जटिल चुनौती के रूप में सामने आती है
    Correct! प्राथमिक स्तर ही कक्षा में यदि विभिन्न प्रान्तों के अलग अलग भाषा बोलने वाले बच्चो का नामांकन हुआ है तो ऐसी स्थिति में भाषा की कक्षा में बच्चों के भाषायी विकास जटिल चुनौती के रूप में सामने आती है, क्योंकि इस स्तर के विद्यार्थी को प्रत्येक प्रान्त की भाषा का ज्ञान नही होता है।
  2. अवरोध ही प्रस्तुत करती है
    Incorrect.
  3. बहुत बड़ी समस्या बन जाती है
    Incorrect.
  4. अनमोल संसाधन के रूप में कार्य करती है
    Incorrect.

(23.) पहली कक्षा की भाषा अध्यापक अपने एक विद्यार्थी के भाषायी विकास के सम्बन्ध में चिन्तित है, क्योंकि
  1. विद्यार्थी पठन-पाठन में रूचि प्रदर्शित नहीं करता है
    Correct! विद्यार्थी द्वारा पठन-पाठन में रूचि प्रदर्शित नहीं करने के कारण पहली कक्षा की भाषा अध्यापक अपने एक विद्यार्थी के भाषायी विकास को लेकर चिन्तित है। अध्यापक को चिन्ता है कि बच्चों को भाषा का ज्ञान किस प्रकार दिया जाए।
  2. विद्यार्थी को घर पर बात करने के बहुत कम अवसर मिलते हैं।
    Incorrect.
  3. विद्यार्थी के माता और पिता की मातृभाषा अलग-अलग है
    Incorrect.
  4. विद्यार्थी अपने साथियों से बहुत झगड़ता है
    Incorrect.

(24.) बच्चों के बोलना-सीखने के सन्दर्भ में कौन-सा कथन सही है?
  1. सभी बच्चों की बोलना सीखने की गति एक समान होती है
    Incorrect.
  2. बड़े परिवार में बच्चों को बोलना सीखने की गति तेज होती है
    Incorrect.
  3. निर्धन परिवारों से आए बच्चों की बोलना सीखने की गति धीमी होती है
    Incorrect.
  4. कहने-सुनने के अधिक-से-अधिक अवसर मिलने पर बच्चे बोलना सरलता से सीखते हैं।
    Correct! बच्चों के बोलना-सीखने के सन्दर्भ में यह कहा जा सकता है कि कहने-सुनने के अधिक से अधिक अवसर मिलने पर बच्चे बोलना सफलता से सीखते हैं।

(25.) विद्यालय/कक्षा में समृद्ध भाषायी परिवेश से तात्पर्य है
  1. मुख्य धारा की भाषा सुनने के अधिक-से-अधिक अवसर
    Incorrect.
  2. बोलने-लिखने, पढ़ने-लिखने के अधिक-से-अधिक अवसर
    Correct! विद्यालय/कक्षा में समृद्ध भाषायी परिवेश से तात्पर्य है। बोलने-सुनने, पढ़ने-लिखने के अधिक से अधिक अवसर होना।-विद्यार्थी को भाषा सुनने, बोलने को अधिक अवसर प्राप्त होगा वह भाषा को अच्छी तरह सीख सकेगा।
  3. एक से अधिक भाषाओं के शब्दकोश की उपलब्धता
    Incorrect.
  4. अध्यापक को एक से अधिक भाषाओं की जानकारी
    Incorrect.

(26.) बच्चों की मौखिक अभिव्यक्ति के विकास का अर्थ यह नहीं है
  1. वाद-विवाद में बोझिझक होकर बोलना
    Incorrect.
  2. कहानी सुनकर शब्दशः दोहराना
    Correct! कहानी सुनकर शब्द: दोहराना बच्चों की मौखिक अभिव्यक्ति के विकास का अर्थ नहीं होता है, बल्कि मौलिक विचारों को व्यक्त करना मौखिक अभिव्यक्ति की श्रेणी में आता है। अतः वाद-विवाद में बेझिझक होकर बोलना, अपनी कल्पनाओं की मौखिक अभिव्यक्ति तथा बातचीत में सक्रिय भागीदारी का निर्वाह करना मौखिक अभिव्यक्ति के विकास के उदाहरण हैं विकल्प (2) कहानी सुनकर दोहराना मौखिक अभिव्यक्ति के विकास का उदाहरण नहीं है।
  3. अपनी कल्पनाओं की मौखिक अभिव्यक्ति
    Incorrect.
  4. बातचीत में सक्रिय भागीदारी का निर्वाह करना
    Incorrect.

(27.) भाषा की कक्षा में यह जरूरी है कि
  1. भाषा-शिक्षक भाषा का पूर्ण ज्ञाता हो
    Incorrect.
  2. भाषा-शिक्षक बच्चों की उच्चारणगत शुद्धता पर विशेष ध्यान दे
    Incorrect.
  3. भाषा-शिक्षक बच्चों की वर्तनी को बहुत कठोरता से ले
    Incorrect.
  4. स्वयं भाषा-शिक्षक की भाषा प्रभावी हो
    Correct! भाषा की कक्षा में यह जरूरी है कि स्वयं भाषा-शिक्षक की भाषा प्रभावी हो। जिससे बच्चे प्रेरित होकर विभिन्न भाषायी कौशलों में पारंगत हो सके।

(28.) प्राथमिक स्तर पर बच्चों की भाषायी क्षमताओं का विकास करने का अर्थ है
  1. भाषिक संरचनाओं पर अधिकार
    Incorrect.
  2. भाषा-प्रयोग की कुशलता पर अधिकार
    Incorrect.
  3. भाषा-अनुकरण की कुशलता पर अधिकार
    Correct! प्राथमिक स्तर पर बच्चों की भाषायी क्षमताओं का विकास करने का अर्थ है- भाषा अनुकरण की कुशलता पर अधिकार प्राप्त करना।
  4. भाषिक नियमों पर अधिकार
    Incorrect.

(29.) व्याकरण-शिक्षण की आगमन विधि की विशेषता है
  1. पहले नियम बताएं
    Incorrect.
  2. पहल नियम का विश्लेषण करना
    Incorrect.
  3. पहल मनारजक गतिविधियाँ कराना
    Incorrect.
  4. पहले उदाहरण प्रस्तुत करना
    Correct! व्याकरण-शिक्षण की आगमन विधि की विशेषता है पहले उदाहरण प्रस्तुत करना। आगमन विधि में पहल कई उदाहरण प्रस्तुत किए जाते हैं और बाद में उन्हीं का सामन्यीकरण करक नियम बताए जाते हैं। आगमन विधि व्याकरण-शिक्षण की सर्वोत्तम विधि मानी जाती है। निगमन विधि में पहले नियम बताए जाते हैं बाद में उदाहरणों द्वारा उन्हें प्रमाणित किया जाता है। यह गणित शिक्षण की उत्तम विधि है।

(30.) प्राथमिक स्तर की पाठ्य-पुस्तकों का निर्माण करते समय आप किस बिन्दु पर विशेष ध्यान देंगे?
  1. हिन्दी भाषा के वैविध्यपूर्ण रूप शामिल हों
    Correct! प्राथमिक स्तर की पाठ्य-पुस्तकों का निर्माण करते समय हिन्दी भाषा के वैविध्यपूर्ण रूप के सम्मिलन पर विशेष ध्यान देंगे।
  2. उपदेशात्मक पाठ शामिल हो
    Incorrect.
  3. कहानियाँ अधिक-से-अधिक शामिल, हों
    Incorrect.
  4. प्रसिद्ध लेखकों की रचनाएँ शामिल हों
    Incorrect.

Axact

Currentjosh

We welcome you all on our education platform currentjosh.in. Here we share study materials all free and contents related to education to help each student personally. Our team members efforts a lot to provide quality and useful selected information for particular subjects and particular topics. Stay in touch with us and with our members who works for this welfare education system and get useful and best study material to get selected.

Post A Comment:

0 comments: